क्या भविष्य में आपके बॉस भी CEO Mika की तरह अब AI Robot होंगे?

13 Min Read

क्या भविष्य में आपके बॉस भी CEO Mika की तरह अब AI Robot होंगे?

अगर आप टेक्निकल जगत से इत्तेफ़ाक रखते है तो शायद आप एक बेहद एडवांस रोबोट सोफिया को तो जानते ही होंगे। उनके रील्स और शॉर्ट्स सोशल मीडिया में काफी वायरल होते है। लेकिन अब इसका एक और एडवांस वर्जन के साथ मीका जो की एक AI रोबोट है, उनको CEO बन ने के लिए ही डिजाइन किया गया है।

मीका को Hanson Robotics द्वारा बनाया गया है, और इन्हे पोलिश रम कंपनी डिक्टाडोर (Dictador) द्वारा मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के रूप में नियुक्त किया गया है। इसी के साथ यह दुनिया की पहली रोबोट सीईओ बन गई है।

पर इस के साथ कई सवाल आपके मन में आ सकते है, जैसे क्या अब भविष्य में हमें AI रोबोट CEO जैसे लीडरशिप के पदों के साथ साथ क्या छोटे मोटे कामों को करते भी दिख जायेंगे? और आखिर ये पूरा AI Robot का मॉडल असल में कारगर होगा भी या नहीं? और क्या आपको भविष्य में इन रोबोट की वजह से अपनी जॉब छिन जाने का खतरा है क्या? इन सब सवालों के जवाब हम इस आर्टिकल में जानेंगे।

 

आखिर एक AI रोबोट CEO के रूप में कैसे काम कर सकता है?

How could an AI robot serve as a CEO?

How could an AI robot serve as a CEO?

सबसे बड़ा सवाल की आखिर कैसे एक रोबोट CEO के रूप में काम कैसे करती है? जबकि CEO को बहुत से समय के हिसाब से फैसले लेने पड़ते है, कई सारी मीटिंग्स, क्रिएटिविटी और एक अच्छी लीडरशिप देनी होती है। जो की सिर्फ इंसानी दिमाग से ही संभव हो सकता है। तो आखिर कैसे एक मशीन पर इतना जरूरी काम छोड़ा जा सकता है।

तो ये जाहिर है मीका आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल करती है जो की बहुत शक्तिशाली है और इसे एक सीईओ के तौर पर ही डिजाइन किया गया है। यह एक सीईओ के रूप में पलक झपकते ही बिना किसी पक्षपात के डेटा और मशीन लर्निंग के माध्यम से फैसले लेती है।

यह ना सिर्फ कंपनी के कर्मचारियों और ग्राहकों के साथ कम्युनिकेशन करने में सक्षम है, बल्की यह डेटा का विश्लेषण और कंपनी को अच्छे से चलाने में मदद करने के लिए रणनीतियां विकसित करने में भी सक्षम है।

मीका रोबोट के काम इस प्रकार है:

 

  1. कम्युनिकेशन

Mika कंपनी के कर्मचारियों और ग्राहकों के साथ संवाद करने में सक्षम है। यह ईमेल, टेक्स्ट संदेश, वीडियो कॉल और अन्य माध्यमों के माध्यम से कम्युनिकेशन कर सकती है।

उदाहरण के लिए,

📌वह कंपनी के कर्मचारियों के साथ रेगुलर मीटिंग्स कर सकती है।

📌वह ग्राहकों के साथ व्यक्तिगत रूप से या ऑनलाइन बातचीत कर सकती है।

📌वह कंपनी के सोशल मीडिया खातों पर पोस्ट कर सकती है।

 

  1. सीखना

Mika robot डेटा का विश्लेषण करके सीख सकती है। यह कंपनी के प्रदर्शन, ग्राहक की प्रतिक्रिया और अन्य कारकों पर डेटा का विश्लेषण करके सीख सकती है।

📌उदाहरण के लिए, यह कंपनी के उत्पादों की बिक्री का विश्लेषण करके यह निर्धारित कर सकती है कि कौन से उत्पाद लोकप्रिय हैं और किन प्रोडक्ट्स में सुधार की आवश्यकता है।

 

  1. फैसले लेना

Mika robot निर्णय लेने में सक्षम है। यह कंपनी के संचालन, उत्पाद बढ़ाने और मार्केटिंग के लिए रणनीति के बारे में निर्णय ले सकती है।

उदाहरण के लिए,

📌वह कंपनी के उत्पादों की बिक्री का विश्लेषण करके यह निर्धारित कर सकती है, कि कौन से उत्पाद लोकप्रिय हैं, और किन उत्पादों में सुधार की आवश्यकता है।

📌वह कंपनी के ग्राहक सर्वे के परिणामों का विश्लेषण करके यह निर्धारित कर सकती है, कि ग्राहक क्या चाहते हैं? और कंपनी कैसे सुधार कर सकती है।

📌वह कंपनी के फाइनेंशियल डेटा का विश्लेषण करके यह निर्धारित कर सकती है, कि कंपनी के लिए सबसे अच्छा निवेश कौन से हैं।

 

  1. रणनीति विकसित करना

Mika robot रणनीतियां विकसित करने में सक्षम है। यह कंपनी के भविष्य के लिए रणनीतियां विकसित कर सकती है, जैसे कि नए उत्पादों को लॉन्च करना, नए बाजारों में विस्तार करना या कंपनी की दक्षता में सुधार करना।

उदाहरण के लिए,

📌यह यह रणनीति विकसित कर सकती है कि कंपनी अपनी उत्पादन क्षमता कैसे बढ़ा सकती है।

📌वह कंपनी के कंपीटीटर्स पर रिसर्च कर सकती है ताकि कंपनी को अपने कंपीटीटर से आगे रहने में मदद मिल सके।

📌वह नए उत्पादों और सेवाओं के लिए विचार विकसित कर सकती है जो कंपनी के लिए लाभदायक हो सकते हैं।

📌वह कंपनी चलाने और बेहतर बनाने के लिए नए तरीकों का विकास कर सकती है।

इन उदाहरणों से पता चलता है कि Mika का उपयोग कंपनी के संचालन को बेहतर बनाने के लिए किया जा सकता है। पर इस से पहले आप रोबोट से भरे भविष्य की कल्पना करने लगे जहा आपके खडूस बॉस की जगह अब रोबोट ले चुका है।

AI robot Mika in office

हमें ये भी मान ना पड़ेगा की ऐसे अभी भी कई सारे काम है जो की एक लीडर के लिए जरूरी है, जो बिना इंसानी हस्तक्षेप के नही किए जा सकते है। मीका अभी भी इंसानों से कई मायनों में पीछे है।

उदाहरण के लिए,

  • यह नए विचारों और नए विचारों को जन्म देने में सक्षम नहीं है। इंसानों के पास क्रिएटिव और नए तरह के विचारो को सोचने की क्षमता है जो रोबोटों में नहीं है।
  • भावनाओं को समझने और प्रतिक्रिया देने में सक्षम नहीं है। इंसानों के पास एक जटिल भावनात्मक जीवन है जो रोबोटों में नहीं है।
  • संबंध बनाने और दूसरों के साथ जुड़ने में सक्षम नहीं है। इंसानों के पास दूसरों के साथ संबंध बनाने और जुड़ने की क्षमता है जो रोबोटों में नहीं है।

इसके अलावा, Mika robot अभी भी डेवलप हो रहा है। इसका मतलब है कि इसमें अभी भी कई कमियां हैं। उदाहरण के लिए, यह कभी-कभी गलतियाँ करती है और यह हमेशा सही निर्णय नहीं ले पाती है।

 

ऐसे कई काम जो मीका किसी आम सीईओ की तरह नहीं कर सकती है, उनमें शामिल हैं:

  • मौजूदा ग्राहकों और संभावित ग्राहकों के साथ व्यक्तिगत संबंध बनाना।
  • व्यावसायिक दुनिया में नेटवर्किंग करना और संबंध बनाना।
  • एक प्रेरणादायक लीडर के रूप में काम करना और दूसरों को प्रेरित करना।
  • कंपनी के लिए लॉन्ग टर्म विज़न डेवलप करना और उसे लागू करना।

हालांकि, Mika इन कार्यों को सीखने और करने में सक्षम हो सकती है क्योंकि यह अभी भी डेवलप हो रही है।

इन सीमाओं के बावजूद, Mika एक शक्तिशाली उपकरण है। और ये सिर्फ पहला मॉडल है, जो की आगे भविष्य में और डेवलप होगा।

 

 

AI लीडरशिप का भविष्य में दुनिया भर में प्रभाव

तो क्या भविष्य में CEO AI Robot Mika जैसी ही लीडरशिप हमें देखने को मिलेगी? जिस तरह से AI डेवलप हो रहा है, शायद 20 से 30 सालों बाद हमारे ऑफिस में खडूस बॉस की जगह एक रोबोट काम करता जरूर दिख जायेगा, जिसे न आपके जेंडर से फर्क पड़ेगा, ना ही आपके बहनों से।

पर आखिर इसका आखिर प्रभाव क्या हम पर पड़ेगा? और क्या ये सच में इंसानों से बेहतर काम कर सकता है? तो किसी भी नई चीज के कुछ पॉजिटिव साइड होते है तो कुछ नेगेटिव भी। हम शुरुआत करते है पॉजिटिव से

The future impact of AI leadership around the world
The future impact of AI leadership around the world

 

पॉजिटिव प्रभाव: 

1. बेहतर क्षमता और प्रोडक्टिविटी: AI सीईओ डेटा एनालिसिस के माध्यम से तेजी से फैसले लेने और ऑपरेशन की क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं।

🔎54% अधिकारियों का कहना है कि उनके व्यवसायों में लागू किए गए AI समाधानों ने उनकी प्रोडक्टिविटी बढ़ा दी है (सोर्स).

2. उत्पीड़न और भेदभाव में कमी: AI सीईओ जाति, लिंग या उम्र जैसे कारकों से जुड़े निर्णयों में पूर्वाग्रह को समाप्त कर सकते हैं। ना ही किसी प्रकार का व्यक्तिगत द्वेष ले कर मन में चलते है। AI अपने घर में हुई लड़ाई का गुस्सा भी आप पर नही निकाल पाएगा। पर हां चमचागिरी करने से कोई फायदा भी नही होगा।

नेगेटिव प्रभाव:

1. नौकरी जाने का खतरा: जो की सबसे जाहिर प्रभाव है, वो है आपके खडूस बॉस का अब क्या होगा, क्या उनकी नौकरी चली जायेगी। तो बता दूं कि आगे आने वाले समय में हो सकता है की किसी AI रोबोट के कारण आपके बॉस से पहले आपकी ही नौकरी चली जाए। क्योंकि इस डेवलप होती टेक्नोलॉजी में आगे काम करने वाले कर्मचारियों के लिए भी शायद रोबोट आ जाए।

🔎 वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की एक “फ्यूचर ऑफ जॉब्स रिपोर्ट” के अनुसार 2025 तक AI करीब 85 मिलियन नौकरियों को खत्म कर देगा।

हालंकि भविष्य अभी दूर है, और इसका ज्यादा लेवल पर प्रभाव शायद अभी की जेनरेशन पर नही पड़ेगा। लेकिन आगे पैदा होने वाली जेनरेशन को अब शायद किसी और लाइन में अपना करियर बनाने का सोचना पड़ेगा। जैसे की रोबोटिक्स साइंस में, AI जैसे क्षेत्र में अच्छा करियर हो सकता है। क्योंकि अब चाहे AI कितना भी एडवांस हो जाए उसे चलाने के लिए, कमांड देने के लिए तो इंसान ही चाहिए ना।

2. मानवीय संबंध और सहानुभूति की कमी: अब हो सकता है आपके घर में इमरजेंसी आन पड़ी हो, अब वो खडूस बॉस तो एक बार को मान जाता। पर सवाल यह है की क्या ये AI रोबोट भी क्या आपके जज्बातों को समझ पाएगा? AI लीडरशिप पर बहुत अधिक निर्भरता ऑफिस में मानवीय संबंध और सहानुभूति को कम कर सकती है।

3. नैतिक चिंताएं: AI निर्णय लेने में पक्षपाती एल्गोरिथम से भेदभावपूर्ण या हानिकारक परिणाम हो सकते हैं, जिससे नैतिक चिंताएं पैदा होती हैं।

How could an AI robot serve as a CEO?

आखिर में मीका जैसे रोबोट अभी बस एक शुरुआत है, जो की अभी भी डेवलप हो रहे है। पर यह शुरुआत हमें भविष्य की एक झलक ज़रूर दे रही है।और आगे आने वाले समय में ऐसे ही कई और एडवांस AI रोबोट ऑफिस में हमारी जगह ले लेंगे। लेकिन अभी उस समय में करीब करीब 15 से 20 साल का समय तो ज़रूर है।

तो ये हमारे लिए बहुत जरूरी है की भविष्य में आने वाली पीढ़ी को अब के ट्रेडिशनल करियर की राह में डालने के बजाय नए सोर्स ढूंढ कर उस में सफर शुरू करें। रोबोटिक्स या AI जैसे क्षेत्र में बेहतर करियर बन ने की संभावना होगी। अब चाहे AI कितना भी स्मार्ट हो उसे चलाने के लिए, कमांड देने के लिए तो किसी इंसान की ही जरूरत है ना।


Difference between Deepfake and AI: Is deepfake only related to videos Difference between Deepfake and AI: Is deepfake only related to videos

Types of Free Debit Card Insurance Types of Free Debit Card Insurance

Share this Article
Leave a comment