Countries Where You Can Not Live Without Cash

4 Min Read
Countries Where You Can Not Live Without Cash: वह देश जहां आप बिना कैश के नहीं रह सकते जीवित

Countries Where You Can Not Live Without Cash: वह देश जहां आप बिना कैश के नहीं रह सकते जीवित

डिजिटल पेमेंट की इस जमाने में, कैश ज्यादातर पुराने जमाने का लगता है, जहां किसी चीज को लेने के लिए एक वस्तु दी जाती थी। आज के जमाने में तो सामान लो, QR कोड स्कैन करों, और समान आपका। यह ना सिर्फ आपका समय बचाता है, बल्कि ट्रैक करना भी आसान है की कहा कितना पैसा खर्च हुआ।

लेकिन अभी कई देश ऐसे हैं जो की भूतकाल में अटके हुआ है, वहा डिजिटल पेमेंट का चलन अभी भी उतना नहीं है, और कागज़ के नोटों पर ही सौदा चलता हैं। तो आइए जानते है, कौन से है वो देश?

कैसे Cashless Payments एक देश की अर्थव्यवस्था बदल सकती है?
कैसे Cashless Payments एक देश की अर्थव्यवस्था बदल सकती है?

.

Cash से प्यार करने वाले देश

World Cash Report की रिर्पोट ने, कुछ पैमानेपर देश को रैंक किया है, जैसे की इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले लोगों का परसेंटेज, क्रेडिट कार्ड वाले लोगों का परसेंटेज, 100,000 लोगों पर ATM का रेश्यो, cash-based पेमेंट का परसेंटेज, और बैंक अकाउंट ना होने वाले लोगों का परसेंटेज. जिसमें सबसे ज्यादा कैश पर निर्भर देश थे:

1. Morocco: 74% ट्रांसिक्शंस cash-based, 71% लोगों के पास बैंक अकाउंट नही था, और सिर्फ 0.2% क्रेडिट कार्ड के मालिक थेे।

2. Egypt: 60% ट्रांसिक्शंस cash-based, 67% लोगों के पास बैंक अकाउंट नही था, और सिर्फ 1% क्रेडिट कार्ड के मालिक थेे।

3. Kenya: 40% ट्रांसिक्शंस cash-based, 49% लोगों के पास बैंक अकाउंट नही था, और सिर्फ 2% क्रेडिट कार्ड के मालिक थेे।

4. Nigeria: 39% ट्रांसिक्शंस cash-based, 60% लोगों के पास बैंक अकाउंट नही था, और सिर्फ 3% क्रेडिट कार्ड के मालिक थेे।

5. Philippines: 38% ट्रांसिक्शंस cash-based, 66% लोगों के पास बैंक अकाउंट नही था, और सिर्फ 5% क्रेडिट कार्ड के मालिक थेे।

Money is falling like rain

इन देशों के कैश इस्तेमाल करने के कुछ कारण

1. फाइनेंशियल सर्विसेज तक पहुंच की कमी: कई लोग इन देशों में बैंक अकाउंट, क्रेडिट कार्ड या मोबाइल वॉलेट नहीं रखते जो उनके डिजिटल पमेंट्स तक की पहुंच को रोकता हैं।

2. इंटरनेट एक्सेस की कमी: बिना ढांके और सस्ते इंटरनेट के, लोग ऑनलाइन प्लेटफार्म या एप्स का इस्तेमाल नहीं कर पाते।

3. जानकारी और एजुकेशन की कमी: कई लोग इन देशों में डिजिटल पेमेंट्स के फायदे के बारे में नहीं जानते, या उन्हें इस्तेमाल कैसे करना है उन्हें पता ही नहीं होता।

4. इंसेंटिव और नियम की कमी: किसी भी साफ इंसेंटिव या पॉलिसी का अभाव लोगों को कैश से डिजिटल पेमेंट पर बदलने के लिए बढ़ावा देता है।

Why OLA, Hero, and TVS are Returning Money to Electric Scooters Customers

अंत में हमें यह जानना जरूरी है, की डिजिटल पेमेंट बहुत ज़रूरी है, इस से ना सिर्फ आप अपने खर्चों का लेखा जोखा रख सकते है, बल्कि भ्रष्टाचार पर भी रोक लगती है। इस से कम से कम कागज़ का निर्माण होता है, और पर्यावरण के लिए भी आसान है। यह तेज़ी से काम करता है और देश की अर्थव्यवस्था में भी हिस्सा लेता हैं।

अंततः, कुछ देशों में नकदी आधारित अर्थव्यवस्था के लिए खतरा विभिन्न चुनौतियों से उत्पन्न होता है। दुनिया भर में डिजिटल भुगतान की दिशा में भी, अफ्रीका और एशिया के कुछ देश क्रिप्टोग्राफ़िक और परिवहन कारणों से नकदी को प्राथमिकता देते हैं। इन रुकावटों को दूर करने के लिए, वित्तीय समावेशन, बुनियादी ढांचे के विकास और डिजिटल इंटेलिजेंस में एक मिल जुल कर कोशिशों की ज़रूरत है।

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment