Maldives Controversy: क्यों होता है भारतियों के खिलाफ Racism?  

12 Min Read

Maldives Controversy: क्यों होता है भारतियों के खिलाफ Racism?

मालदीव जहां पर हमारे इंडियन सेलिब्रिटी पड़े रहते हैं। इसके अलावा मालदीव में सबसे ज्यादा ट्रेवल करने वालों की संख्या भी भारतीयों की ही है। सब अच्छा चल ही रहा था कि प्रधानमंत्री के लक्षद्वीप के दौरे पर गए ट्वीट के कमेंट सेक्शन में नजर पड़ी। मालदीव सरकार के 3 मंत्रियों ने इस ट्वीट पर कमेंट और पोस्ट बहुत ही अपमानजनक और अभद्र टिप्पणी की है और हम भारतीयों के बारे में भी रेसिस्ट कमेंट भी किए है।

पूरी विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें!

.

क्या है भारत और मालदीव का यह कड़वा रिश्ता?

मालदीव में भारत को ले कर यह नफरत कुछ नई नहीं है, केवल 2 महीने पहले ही यहाँ इलेक्शन का मुद्दा ही केवल इंडियन आउट कैंपेन था, जिसके दम पर यह पार्टी जीत भी गई। आपको बता दें, वैसे तो मालदीव में कई सारी पार्ट है, पर यह पर आज एक केवल 2 ही पार्टी शासन कर पाई है।

जिनमें से एक है MDP (Maldivian Democratic Party) जो की अक्सर इंडिया को सपोर्ट करती हैं। तो वही दूसरी है, PPM (Progressive Party of Maldives) जो की चीन को सपोर्ट करती है।

मालदीव्स की इकॉनमी परसेंट अधिकतर केवल टूरिज्म पर ही निर्भर करती है। यानी वहां पर अधिकतर इनकम टूरिस्ट ट्रैवलर से आ रही है जहां पर इंडिया से आने वाले टूरिस्ट कभी नंबर 1 पर तो कभी नंबर 2 पर ही रहते हैं।

Maldives India Go out

2023 के Maldives tourism ministry के आंकड़ों के अनुसार, भारत से लगभग 2.09 लाख विजिटर्स मालदीव गए थे। यानी 10.9% ट्रेवलर तो लगभग इंडिया से ही है।

टूरिज्म के अलावा भारत ने कई और सपोर्ट भी हमेशा मालदीव को दिया है, अब चाहे वो मिलिट्री का सपोर्ट हो या पैसों का। कोविड में भारत से वहां के लिए वेकसीन तक भिजवाई गई थी। हालांकि बदले में मालदीव ने भी भारत का इंटरनेशनल रूप से काफी सपोर्ट किया है।

लेकिन भारत से इतने अच्छे रिश्ते होने के बार भी अगर इस प्रकार की टिप्पणी रूलिंग पार्टी से आयेगी तो यह हमारे आपसी रिश्तों के लिए अच्छा नहीं है।

इसकी प्रतिक्रिया भारतीयों की तरफ से बहुत गुस्से भरी और पॉजिटिव आई है। जिससे सरकार ने उन तीनों सदस्यों को निष्कासित कर दिया हैं।

पर इसके बाद से Boycott Maldives ट्रेंड कर रहा है। जिसमें भारतीयों ने 10 हज़ार से ज्यादा ट्रेवल बुकिंग और 2500 फ्लाइट कैंसिल कर दी हैं। इसके अलावा EaseMy Trip के CEO, निशान पित्ती ने मालदीव जाने वाली सारी फ्लाइट और बुकिंग ही कैंसिल कर दी, जो की बहुत बड़ी बात है।

साथ ही में इंडियन सेलेब्रिटी जैसे अक्षय कुमार, सलमान खान, और भी कई ने भी इसके विरोध में पोस्ट डाली हैं।

.

Racism against Indians

Old Indian Poor Man

यहाँ हम केवल मालदीव पर बात करने नही आए है, हम असल में बात कर रहे है भारतीयों के खिलाफ इस नफरत की, इंडियंस के खिलाफ ररेसिज्म की। मालदीव में इस प्रकार का रेसिस्ट कमेंट कोई अकेला उदाहरण नहीं हैं। बाकी देशों में भी आपको ऐसे कई किस्से कहानियां सुनने को मिल जायेंगी।

जिसका सबसे पहला उदाहरण साउथ कोरिया से है, जहां के रेस्टोरेंट्स के बाहर बैनर लगाए गए है कि इंडियंस और पाकिस्तानी आदमी यहाँ अलाउड नहीं है।

स्नैपचैट के CEO ने बोला था की यह ऐप सिर्फ अमीर लोगों के लिए है, इसीलिए वह भारत में अपना बिजनेस एक्सपेंड नहीं करेंगे।

ऐसे ही कई पर्सनल एक्सपीरियंस आपको YouTube पर भर–भर कर मिल जायेंगे, जहां लोगों ने अपने साथ होने वाले छोटे बड़े भेद–भाव के बारे में बताया है। ज्यादातर लोग भारतीयों को गरीब, गंदा, गाय के साथ रहने वाला कहते है। अक्सर काफी लोगों भद्दे कॉमेंट्स में सुना गया है की हम से मसाले या कड़ी की महक आती है। जिस से हमें कोई फ़र्क नहीं पढ़ना चाहिए, शायद उन लोगों की पढ़ाई में कोई कमी रह गई हो।

इंडियन पर रेसिस्ट कमेंट करना तो बहुत ही आरामदायक बात हो गई है, कोई भी मुंह उठाता है और कर देता है कमेंट। जैसे हम कोई मंदिर का घंटा हो जिसे कोई भी आ कर बजा कर चला जाता है, क्योंकि हम शांतिप्रिय है, तो शायद इस बात का फायदा ही यह लोग उठाते हैं।

.

क्या लक्षद्वीप बनेगा अगला मालदीव?

Lakshadweep beach

इसमें कोई दोराहे नहीं है की पीएम के लक्षद्वीप यात्रा से वहां शयूद अब कुछ बदलाव आए। बल्कि इतना ही नहीं हमारे देश का हर कोना, ढेर सारी खूबसूरती के साथ अपनी विभिन्नता का लिबास ओढ़े बैठा है। यदि इसे संपन्न कर दिया जाए तो यह किसी भी मायने में मालदीव से कम नहीं है, बल्कि कई मायनों में तो बेहतर है।

हमारे देश की इतनी सारी छुपी हुई खुबसूरत जगहें है, की एक्सप्लोर करने चले तो शायद यह उम्र भी काम पड़ जाएं। लेकिन अफसोसजनक हमारे इंडियन सेलिब्रिटी जिन्हें देख कर शायद आपने भी अपनी हॉलीडे या ड्रीम डेस्टनेशन मालदीव अंकित कर दी होगी।

.

सेलेब्रिटी का अहम रोल

लेकिन यहीं इंडियन सेलेब्रिटी शायद ही कभी इंडिया एक्सप्लोर करने निकले। लेकिन हॉलीवुड सेलिब्रिटी की इसमें कुछ अलग राय है।

राजस्थान में, Dua Lipa ने फ़ोटो एक्सप्लोर करते हुए फोटो डाली है। 2008 में, Madonna अपने परिवार के साथ छुट्टियां मनाने आई थी। 2007 में Elizabeth Hurley ने जोधपुर के महल में शादी की। Katy Perry ने भी यही शादी की।

मुंबई में Hugh Jackman, Tom Cruise, Angelina Jolie, Prad Pitt, Oprah, Ralph Fiennes, Steven Spielberg, Sharon Stone aur Will Smith का नाम शामिल हैं। Shakira, Akon और Lady Gaga ने यहाँ परफॉर्म भी किया है।

ताज महल में, इस के ही सामने Russel Brand ने Katy Perry को प्रपोज किया। Leonardo DiCaprio, Julia Roberts, Will Smith, Tom Cruise, Ben Kingsley, Orlando Bloom, Eva Longoria और Mark Zuckerberg ने भी ताज महल का दीदार किया।

दिल्ली में, Coldplay’s Chris Martin, जिन्होंने हौज ख़ास में परफॉर्म किया। Elijah Wood ने भी दिल्ली में परफॉर्म किया है।

Will Smith visiting Taj Mahal

इन सब नामों को शामिल करने का बस एक ही कारण है, की इंडियन सेलिब्रिटी ऐसी जगह जा कर प्रमोट नहीं करते। अब को इनकी मर्जी है, और प्राइवेसी की चिंता हो सकती है। बाहर जाने का ज्यादातर कारण, पपराजी से छुटकारा, इंडियन फैंस से घेरे जाने से झुटकारा, अपनी प्राइवेट लाइफ एंजॉय करने का कारण होता है।

लेकिन हम इन सेलेब्रिटी को फॉलो कर ऐसी जगह पहुंच जाते है, जबकि हमारे पीछे कोई मीडिया भी नही पड़ी। हम जहां चाहे आजादी से इस देश में घूम सकते हैं। तो बेहतर होगा इन सेलिब्रिटी की देखा देखी बाहर जाने से अच्छा एक बार आप अपने देश को ही एक्सप्लोर कर लें। जिस से ना केवल आपके पैसे की बचत होगी, बल्कि आप भारतीय इकोनॉमी को ही मजबूर करेंगे।

लेकिन दूसरी तरफ, कुछ इंडियन डायरेक्टर ऐसे हैं जो देश की खूबसूरत जगह को पॉपुलर बनाने का कारण है। जैसे मणिरत्रम जी, उन्होंने रावण फिल्म में केरल को कैप्चर किया, जिसे पहले कम ही लोग जानते थे। बल्कि मैंने भी एक ट्रिप पर यह जगह देखी थी। तो इन डायरेक्टर्स या एक्टर्स को भी एक जिम्मेदारी लेनी होगी।

.

कैसे इंडिया को पॉपुलर बना सकते हैं?

  1. व्लॉगर्स के जरिए

सबसे पहले यूट्यूब व्लॉगर्स जैसे सौरभ जोशी से, गौरव तनुजा या प्राजिकता कोहली और सारे व्लॉगर्स, यूट्यूबर्स या इनफ्लुएंसर को एक बड़ा कदम उठाना पड़ेगा। मैं आप लोगों से रिक्वेस्ट करूंगा, की आप लोग लक्षद्वीप जाओ और एक्सप्लोर करो।

जो भी आपको कमियां लगती हैं, उसे बताओ ताकि उसे इंप्रूव किया जा सके। बल्कि मालदीव्स और लक्ष्यदीप का एक कंपैरिजन वीडियो बनाओ और अपने सजेशन दो, ताकि वहां हम उसे संपन्न कर सकें उसे ग्रोथ कर सके।

  1. इंडियन सेलिब्रिटी

दूसरा, पॉपुलर सेलिब्रिटीज, लक्षद्वीप और देश के अलग-अलग हिस्सों में जाएं, एक्सप्लोर करें और वहां पर डालें अपने इन्स्ताग्राम की फोटोज।

  1. सरकार द्वारा कदम

तीसरा स्टेप, सरकार को चाहिए कि देश की ऐसी जगहों को रिसोर्स करें। इनफ्लुएंसर या सेलिब्रिटी को बुलाएं, स्पोंसर करें और उनसे प्रमोटिंग कराएं, हो की बाहर के देशों में बहुत आम प्रैक्टिस है। ध्रुव राठी को, मंगोलियन सरकार ने इस ही तरह बुलाया था। इससे देश का टूरिजम बहुत हाई हो जाएगा.

Garbage in Indian Nature

  1. लोगों की ज़िम्मेदारी

हम लोगों को कही जाने के लिए बोलने की ज़रूरत नहीं है, हम खुद ही इन जगहों पर पहुंच जाते हैं। लेकिन हमें एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी निभाने की जरूरत है, वह है सफाई। अगर किसी चीज में हमारा देश विदेश से कम है तो वह है सफाई, वहां हमारे देश के जैसे खूबसूरत जगह पर कूड़ा कचरा नहीं पड़ा रहता है।

अगर आप वहां सफाई नहीं कर सकते तो कृपया कर गंदा भी ना करें। इस बात को शायद आप भी मानते होंगे, कोई ऐसा बीच, पहाड़ या रेगिस्तान नहीं बचा होगा, जहां आपको पानी या दारू की बोतल पड़ी ना मिल जाए, गुटके या चिप्स के पैकेट ना मिल जाए। इन जगहों पर झाड़ू मारने लोग नहीं आ सकते, तो कृपया कर इन जगहों को अपने घर जैसा साफ रखें।

आपको इस बात की समझ है तो अपने सामने ऐसा करने वालों को भी समझने की कोशिश करें। अगर वह नहीं समझते तो शायद अभी उनमें सिविक सेंस आने में काफी समय लगेगा।

तो हम लोगों को अपनी पर्सनल लेवल पर इस बात की जिम्मेदारी लेनी होगी, ताकि हमारे देश के जो असली जैम्स हैं, खूबसूरत जगहें हैं, उन्हें एक वैल्यू मिले। वो अर्निंग और वो सम्मान दोनों का सोर्स बन सके।


Big Course Scam Exposed: क्या यह कोर्स नकली है?

Big Course Scam Exposed: क्या यह कोर्स नकली है?

Cyber Troops and Recommended Media: आपके फीड पर आने वाली पोस्ट एक साज़िश है

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment