Google Maps Speedometer: दुर्घटना से देर भली

5 Min Read
Google Maps Speedometer: दुर्घटना से देर भली

Google Maps Speedometer: दुर्घटना से देर भली

Google Maps सिर्फ एक virtual map से ज्यादा है। यह एक अच्छा तरीका है उन जगहों में घूमने का, जिन जगहों के बारें में आपको पता नहीं है। पर क्या आपको पता है? ये आपको एक safe driver भी बना सकता है।

कभी कभी अपनी धुन मे ही drive करते हुए, मस्त music सुनते हुए पाता ही नहीं चलता की कब हम speed limit को पार कर चुके है, ऐसा अक्सर highway पर होता है, और कार के शीशे बन्द होने पर स्पीड का अंदाज़ा नहीं हो पाता। अब आपने चाहे जाने अनजाने में speed तेज़ की है, तो हो सकता है उसका खामियाज़ा ना सिर्फ आपको भुगतना पड़े, बल्कि किसी और को भी।

तो आप बिना जल्दी बाज़ी करें, अपने घर अपनों के पास जाना सुरक्षित जाना चाहते हैं तो, Google Maps अपने Speedometer tool के साथ आपकी मदद करने को तैयार है। चलिए इस Google Maps Speedometer feature को ट्राई करते हैं और समझते हैं कि इसे कैसे सेट अप करना है।

.

Speedometer का काम क्या है?

सोचिए: आप अपना favorite music सुनते हुए drive कर जा रहें है, और Google Maps पुरे रास्ते रास्ता बताने मे busy है। लेकिन जल्दी आपको एहसास होता है की आप जाने अनजाने मे काफी स्पीड में चल रहे थे, जो की शायद काफी खतरनाक हो सकता है। लेकिन अगर Google Maps आपको इसके बारे में पहले ही बता दे तो? यहां पर Google Maps Speedometer feature काम आता है।

Google Maps Speedometer feature एक डिजिटल कोपायलट की तरह है जो आपको बताता है जब आप स्पीड लिमिट से ज्यादा तेज़ चल रहे हैं। यह स्मार्ट फ़ीचर आपको बताता है कि आप कितनी तेज़ चल रहे हैं, और आपको अचानक से ओवर स्पीडिंग से बचाता है।

How to apply for a duplicate RC online

 

Speedometer Function को On करने का तरीका

Google Maps Speedometer feature को set up करना पेट्रोल या गैस भरने की तरह आसान है। बस निचे दिए गए steps को follow करते जाइये।

  1. Profile पर जाएँ: अपने प्रोफाइल तक पहुंचने के लिए, Google Maps app को खोलें और ऊपर एक व्यक्ति की तरह दिखाई देने वाले icon पर tap करें।
  2. Settings पर क्लिक करें: अगर आप नीचे स्क्रोल करते हैं, तो सबसे नीचे “Settings” ऑप्शन मिलेगा। अगर चाहें तो इस पर टैप करें।
  3. Navigation Settings को Explore करें: “Settings” के अंदर, आपको “Navigation Settings” मिलेगा।
  4. Driving Options ढ़ूँढ़ें: जब आप Navigation Settings में हैं, तो “Driving Options” section को ढ़ूँढ़ें।
  5. Speedometer को Toggle करें: “Speedometer” नाम का ऑप्शन ढ़ूँढ़ें और activate करें।
  6. अब आपने Google Maps Speedometer feature को on करने के लिए सब कुछ सही किया है। अब अगर आप बहुत तेज चल रहे हैं और आपका speedometer लाल zone के क़रीब है, तो Google Maps आपको याद दिलाएगा कि आप तेज चल रहे हैं।

Are Dash Cams for Bikes in India Worth the Investment? What You Should Know

Speedometer क्यों ज़रूरी है?

Google Maps Speedometer feature एक angel की तरह आपके speedometer के ऊपर नज़र रखता है। आपके तेज चलने का पता करना आसान है, ख़ासकर अगर आप किसी अनजाने जगह पर हैं। ये आपको स्पीड की वजह से होने वाले किसी एक्सीडेंट से बचा सकता है। जल्दी गाड़ी चला के आप शायद सिर्फ 10 से 15 मिनट ही जल्दी पहुँच पाएंगे। जो की किसी जान से ज्यादा ज़रूरी नहीं।

गूगल मैप्स सिर्फ एक रास्ते तक पहुँचने का तरीका नहीं है। Google Maps Speedometer feature के साथ, आपका रास्ता सुरक्षित और मजेदार बन जाता है। तो चाहे आप एक रोड ट्रिप पर जा रहे हैं, काम जा रहे हैं, या बस किसी नए इलाके को एक्सप्लोर कर रहे हैं, आप यकीन कर सकते हैं कि Google Maps के साथ आप Over Speeding के खतरे से दूर रह सकते है।


Share this Article
Leave a comment