Zomato Food Delivery Scam: खाने में भी स्कैम

3 Min Read

Zomato Food Delivery Scam: खाने में भी स्कैम

भूख लगी है लेकिन खाना बनाने का दिल नहीं, क्यों न Zomato से ऑर्डर कर दें, कितना सुविधाजनक लगता है, है ना? लेकिन पर्दे के पीछे, Zomato ऐप में एक चीज है- घोटाला। एक ऐसी दुनिया जो आपको हैरान और गरीब दोनों बना सकती है।

In India, drones will deliver food and groceries in just 15 minutes.

Zomato Cash-on-Delivery Scam

ज़ोमैटो यूजर विनय सती से मिलें, जिन्होंने अपना पसंदीदा खाना ऑनलाइन ऑर्डर किया था। यहां तक सब ठीक लगता है ना? लेकिन जब डिलीवरी करने वाला व्यक्ति आया तो एक अजीब मोड़ आ गया। सामान्य “धन्यवाद, सर” के बजाय, डिलीवरी वाले ने एक बम गिराया: “अगली बार ऑनलाइन भुगतान न करें। कैश ऑन डिलीवरी (सीओडी) का विकल्प चुनें। यह सस्ता है।”

विनय को जिज्ञासा हुई, सीओडी सस्ता क्यों होगा? डिलीवरी करने वाले ने सारा राज उगल दिया। यहां बताया गया है कि घोटाला कैसे काम करता है:

1. डिस्काउंट का धोखा: यदि विनय ने सीओडी चुना होता, तो उसे ऑनलाइन कीमत के एक अंश के लिए वही भोजन मिलता। 800 रुपये के बजाय 200 रुपये का भुगतान करने की कल्पना करें! बहुत सही लगता है न?

 2. दोहरी मुसीबत: लेकिन रुकिए, और भी बहुत कुछ है! विनय डिलीवरी वाले को 200-300 रुपये अतिरिक्त भी देता था। इसके बाद डिलीवरी ब्वॉय ज़ोमैटो के सिस्टम में ऑर्डर को अनडिलीवर के रूप में चिह्नित कर देगा।

3. ज़ोमैटो को पता नहीं चलेगा और विनय को उसके खाने पर बढ़िया डील मिलेगी। डिलीवरी करने वाला व्यक्ति डिस्काउंट दे कर गायब हो जाएगा।

Swiggy Food Delivery Scams: खाना मांगाना भी पड़ेगा अब बहुत भारी 

Zomato की प्रतिक्रिया

इस जाल में फंसा विनय अकेला नहीं था। अन्य ज़ोमैटो यूजर के पास बताने के लिए ऐसी ही कहानियाँ थीं। शुक्र है, ज़ोमैटो के सीईओ, दीपिंदर गोयल ने कदम उठाया। उन्होंने सभी को आश्वासन दिया कि कंपनी को घोटाले के बारे में पता है और वह “खामियों को दूर करने के लिए काम कर रही है।” लेकिन यह ज़ोमैटो का पहला पंगा नहीं था; ऑफ़लाइन बिलों की तुलना में बढ़े हुए ऑनलाइन बिलों के लिए उन्हें पहले भी आलोचना का सामना करना पड़ा था।

Food delivery scams आपके पसंदीदा खाने में छिपी सामग्री की तरह हैं – वे आपको चौकन्ना कर देते हैं। तो, अगली बार जब आप चीज़ी पिज़्ज़ा या खुशबूदार बिरयानी ऑर्डर करें, तो अपनी आँखें खुली रखें। और याद रखें, हर ऐप नोटिफिकेशन के पीछे एक कहानी छिपी होती है – कभी-कभी दिलकश, कभी-कभी भयावह।


Flipkart Pay Later EMI: क्या इसे इस्तेमाल करना आपकी सिविल के लिए सही है?

Flipkart Pay Later EMI: क्या इसे इस्तेमाल करना आपकी सिविल के लिए सही है?

Why Indian Trains Are Crowded: रेल सफर के 2 भारत

Why Indian Trains Are Crowded: रेल सफर के 2 भारत

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment